नवग्रह पूजन विधि | मंत्र सहित : NavGrah Pujan Vidhi

प्रत्येक धार्मिक मांगलिक कार्य में नवग्रह पूजन विधि मंत्र सहित : NavGrah Pujan Vidhi अनिवार्य होता हैं। तो आइये सम्पूर्ण विधि…

प्रत्येक पूजन से पहले क्यों जरूरी है स्वस्ति वाचन (मंगल पाठ)

स्वस्ति वाचन (मंगल पाठ) करना हमारे स्वस्थ विचारों और भावनाओं को संतुष्टि और स्थिरता प्रदान करता है। जो पूजन के समय हमारे मन और श…

ॐ जय जगदीश हरे आरती | Aarti Om Jai Jagdish Hare जगदीश्वर जी की आरती

॥ ॐ जय जगदीश हरे आरती ॥ आरती संग्रह जय जगदीश हरे ॐ जय जगदीश हरे, स्वामी जय जगदीश हरे । भक्त जनों के संकट, दास जनों के संकट…

मृत्यु के पश्चात मनुष्य के साथ 5 पाँच वस्तुएँ साथ जाती हैं ।

बड़े भाग मानुष तन पावा ।  सुर दुर्लभ सद् ग्रन्थन्हि गावा ॥ साधन् धाम मोक्ष कर द्वारा ।  पाई न जेहिं परलोक सँवारा ॥ …

स्वस्ति वाचन (मंगल पाठ) शांति पाठ स्वस्त्ययन हिंदी अनुवाद सहित

स्वस्तिवाचन--यजमान हाथ में पुष्प लेकर गणेश जी महाराज और माँ अम्बिका का ध्यान करें करते हुए निम्न मन्त्रों का पाठ-उच्चारण करें। …

महारुद्र बजरंगबली पूजा अर्चना विधि

सम्पूर्ण बजरंगबली पूजन विधि पवन तनय संकट हरण मंगल-मूरत। रुप  राम लखन सीता सहित हृदय बसही सुर भूप शिव अर्चन-पूजन का उचित…

मांगलिक सभी कार्यों में पंच देव की पूजनविधी ध्यान और महत्व

हिन्दू धर्म के प्रत्येक मांगलिक कार्य या पूजा आदि में पंच देव की पूजन का विशेष महत्व है। मांगलिक कार्य या पूजा की सम्पूर्ण फल प…

ज़्यादा पोस्ट लोड करें
कोई परिणाम नहीं मिला